महिलाओं को अपने प्राइवेट पार्ट से सम्बंधित यह काम जरूर करना चाहिए

Things to know before doing sex, How to do sex, what to do before doing sex, personal advice, sex advice, life tips...
User avatar
admin
Site Admin
Posts: 1302
Joined: 07 Oct 2014 01:58

महिलाओं को अपने प्राइवेट पार्ट से सम्बंधित यह काम जरूर करना चाहिए

Unread post by admin » 19 Mar 2019 04:08

स्त्रियों का पूरा शरीर एक बहुत ही विचित्र मशीन के सामान होता है। महिलाये ही इंसान को जन्म देती हैं इसलिए उनका शरीर पुरुषों के अपेक्षा काफी जटिल बना हुआ होता है। महिलाओं के शरीर के हर अंग की उस अंग के अनुसार अगर ध्यान न रखा जाए तो समस्या कभी भी बढ़ सकते हैं। महिलाओं को अपने प्राइवेट पार्ट का ख्याल रखना चाहिए इसीलिए आज हम आपको कुछ ऐसे बातें बताने वाले हैं जिन्हे अगर आप अपने दैनिक जीवन में करती हैं तो किसी भी प्रकार की तकलीफ से मुक्त रख सकती हैं।


आइये कुछ ऐसी बातो के बारे में जानते हैं जिनकी मदद से महिलायें अपने प्राइवेट पार्ट की देखभाल और भी से कर सकती हैं।
1. पैड का उपयोग
हर महीने मासिक धर्म यानी की पीरियड्स का आना तो हर और महिला के लिए आम बात है। लेकिन इससे भी ज्यादा जरुरी यह है की आप मासिक धर्म के दौरान अपने प्राइवेट पार्ट का ख्याल किस प्रकार से रखती हैं। पीरियड्स के समय में शरीर से ख़राब खून निकलता रहता है और वह आपके प्राइवेट पार्ट के बाहर अक्सर लग जाय करता है जिसकी वजह से कई प्रकार के बीमारियां हूँ सकती हैं जिनमे से सबसे आम है खुजली। अगर यह खजली बढ़ जाए तो काफी संवेदनशील मामला हो सकता है। इसलिए इस प्रकार की किसी भी समस्या से बचने के लिए हर स्त्री और लड़की को अपने मासिक धर्म के दौरान अच्छे क्वालिटी का पैड जरूर उपयोग करना चाहिए जिससे की यह सारा खून उसमे ही सोख्ता रहे और आपके प्राइवेट पार्ट्स साफ रह सके।
2. अच्छे क्रीम का उपयोग
यह बात बहुत कम लोगो को ही पता होती है की लड़कियों के प्राइवेट पार्ट के स्थान में भी कुछ केमिकल्स हैं जिनकी एक निश्चित मात्रा होती है। यह केमिकल किसी भी लड़की के अंदर ना तो बढ़ने चाहिए न ही घटने चाइये लेकिन अधिक गर्मी के समय में उस स्थान में केमिकल्स की मात्रा बढ़ने लगती है से खुजलाहट भी हो सकती है और इससे बचने के लिए आपको किसी अच्छे क्वालिटी की क्रीम का ही उपयोग करना चाहिए। इसे वैज्ञानिक भासा में पीएच मात्रा भी कहा जाता है।
धन्यवाद्